• Twitter
  • Facebook
  • Google+
  • LinkedIn

Transportation

चंद्रमा और उससे पार का लक्ष्‍य

चंद्रयान की कुशल ट्रेकिंग एवं प्रबंधन (मैन्‍यूवरिंग) मिशन की सफलता के लिए महत्‍वपूर्ण है ।  भा.प्रौ.सं मुंबई से एक कुशल एवं निम्‍न लागत ट्रेकिंग एल्‍गोरिथम इसका समाधान हो सकता है । मंगल आर्बिटर मिशन (एमओएम) जिसे मंगलायन के नाम से भी जाना गया, की हाल ही की सफलता अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी में एवं राष्‍ट्र की अनुसंधान क्षमताओं के लिए विशिष्‍ट उपलब्धि रही ।  अपनी सफलता की लहर को जारी रखने के लिए दृढ़ प्रतिज्ञ, इसरो दूसरे लूनर (चन्‍द्रमा संबंधी) मिशन, चंद्रायान-2 को वर्ष 2016 के अंत तक या 2017 के प्रारंभ में लांच करने की योजना बना रहा है ।  अंतरिक्ष मिशन किसी देश द्वारा किए जा सकने वाले सर्वाधिक प्र

Hindi
Continue reading

Aiming for the moon and beyond

Efficient tracking and maneuvering of Chandrayaan is crucial for the success of the mission. An efficient and low cost tracking algorithm from IIT Bombay could be a solution to this.

English
Continue reading
Subscribe to RSS - Transportation